भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Zoology (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Pathogen

रोगजनक, रोगाणु
रोग उत्पन्न करने में समर्थ जीव |

Pathogenesis

रोगजनन
रोग की उत्पत्ति और उसके विकास में घटनाऔं की श्रृंखला |

Pathosystem

रोग-तंत्र
परजीविता के घटना-क्रम से परिभाषित एक पारिस्थितिकीय तंत्र | एक पादप-रोग-तंत्र के अंतर्गत एक या अधक परपोषी पादप जाति और विविध परजीवी कीट,कवक जीवाणु आदि आते हैं, जो परपोषी का लाभ उठाते हैं | शाकाहारी पक्षी तथा स्तनी सामान्यतया परजीवी वर्ग में नहीं आते |

Pathotype

रोग-किस्म
वह परजीवी समष्टि जिसकी सभी व्यष्टियों में परजीवी सामर्थ्य होना स्वाभाविक है |

Pebrine disease

पेब्राइन रोग
रेशम कीट का भंयकर रोग जो माइक्रोस्पोरीडियम, नोसीमा बॉम्बाइसिस जाति द्वारा फैलता है | इससे रेशम कीट के परिपक्व डिंभक की रेशम ग्रंथियों के भयंकर रुप से संक्रमित हो जाने के कारण हल्के किस्म के कोये बनते हैं |

Pectin

पैक्टिन
गैलेक्टुरोनिक अम्ल के बहुलक | इनमें,पैक्टिन, पैक्टिक अम्ल, पेल्टिनिक अम्ल तथा अन्य पेक्टिन यौगिक साम्मिलित होते हैं |

Pectinate

कंकताकार
कंघे के आकार की संरचना या अंग, उदा. -कंकताकार श्रृंगिका |

Pectoral girdle

अंसमेखला
कशेरुकियों के कंकाल का वह भाग जिससे अग्र पाद जुड़े रहते हैं | स्थलीय प्राणीयों में यह संरचना सामान्यतया तीन युग्मित अस्थियों से बनती है-अंसतुंड (कोराकॉयड), असंफलक (स्केपुला) और जत्रुक (क्लैविकल) |इन तीनों अस्थयों के संगम स्थल पर अंस उलूखल (ग्लीनोइड कैविटी) होता है, जिसमें प्रगंडिका (ह्यूमरस) का सिर बैठता है |

Pedicel

वृंत
1. अंड नलिकाओं से अंडवाहीनी तक फैली हुई विशेष लघु वाहिनी |
2. कीट श्रृंगिका का दूसरा खंड |
कुछ कीटों में, इस खंड में एक विशेष संवेदी अंग होता है जिसे “जॉन्स्टन अंग’ कहते हैं, उदा.-टिड्डा |

Pedipalp(pedipalpus)

पदस्पर्शक
वयस्क कीलीसिरेटा के दूसरे उपांग जो मैडिबुलेटा की चिबुकास्थियों संगत होते हैं |

Pelagic

वेलापवर्ती, पेलैजिक
समुद्रतट से दूर खुले सागर में पानी की सतह पर या कुछ गहराई तक पाए जाने वाले जीवों के लिए प्रयुक्त जिसमें प्लवक (प्लैंक्टन) और तरणक (नेक्टन) दोनों को ही शामिल किया जाता है | दे. littoral वेलांचली |

Pelvis

1. श्रोणि प्रदेश, श्रोणि अस्थि 2. वृक्कद्रोणि
1. श्रोणि मेखला से घिरा उदर का निचला भाग |
2. मूत्रवाहीनी का कीप-जैसा फैला अग्र भाग, जहां पर वह वृक्क से उसकी अवतल सतह की तरफ से मिलता है |

Penis

शिशन
नर प्राणयों में पाया जाने वाला वह भाग जो मादा की योनि में प्रवेश कर वीर्यसेचन की क्रिया करता है |

Pepsin

पेप्सिन
कशेरुकियों के आमाशय में जठर ग्रंथियों द्वारा उत्पन्न एंजाइम जो हाइड्रोक्लोरिक अम्ल की मौजूदगी में प्रोटीन को पेप्टोन बदलता है |

Peptide bond

पेप्टाइड बंध
ऐमीनो अम्ल के ऐल्फा-ऐमीनों वर्ग के साथ दूसरे ऐमीनो अम्ल के कार्बोक्सिल वर्ग को जोडंने वाला सहसंयोजी आबंध |

Pericardium

हृदयावरण, परिहृद्
कशेरुकियों में हृदय तथा प्रमुख रक्त वाहिकाओं के आधार के चारों ओर की झिल्ली जिसमें हृदयावरणी तरल भरा होता है | इससे हृदय बिना घर्षण के धड़कता रहता है |

Pericentric inversion

परिकेंद्री प्रतिलोमन
अंतरागुणसूत्री संरचनात्मक परिवर्तन जिसमें सूत्रकेंद्र शामिल होता है उलटने वाले गुणसूत्र खण्ड में |

Perilymph

परिलसीका
आंतरिक कर्ण में कला लेबिरिंथ के चारों ओर भरा लसीका तरल जो उसे कोश से पृथक रखता है |

Period

कल्प
पृथ्वी के ऐतिहासिक काल-क्रम में समय का एक भाग (एक काल खंड या इकाई) जो युग से बड़ा और महाकल्प से छोटा होता है;जैसे क्रिटेशस, डिवोनियन आदि |

Periodic release

आवर्ति मोचन
लाभकारी प्राकृतिक शत्रुओं को पर्यावरण में प्रविष्ट करने की पद्धति, जिसमें देशज जैविक कारकों की उच्च समष्टी के स्तरों को कृत्रिम रुप से बनाए रखने के लिए इन प्राकृतिक शत्रुओं को बार बार छोडा जाता है |

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App