भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

सृजक

रचना करनेवाला।
वि.
(सं. सृज)

सृजत

रचता है।
क्रि.स.
(हिं. सृजना)
उ.- पालत सृजत सँहारत सैंतत अंड अनेक अवधि पल आधे-९−५८।

सृजन

पुं.

सृष्टि या रचना करने की क्रिया, उत्पादन।
संज्ञा
(सं. सृज्, सर्जन)

सृजन

पुं.

सृष्टि, उत्पत्ति।
संज्ञा
(सं. सृज्, सर्जन)

सृजन

पुं.

छोड़ने या निकालने की क्रिया।
संज्ञा
(सं. सृज्, सर्जन)

सृजनहार, सृजनहारा, सृजनहारो

रचने, बनाने या उत्पन्न करनेवाला।
वि.
(हिं. सृजन+हार, हारा)

सृजना, सृजनो

रचना, बनाना, सृष्टि करना।
क्रि.स.
(सं. सृज+हिं. ना)

सृत

जो खिसक गया हो।
वि.
(सं.)

सृत

जो चला गया हो, गत।
वि.
(सं.)

सृति

स्त्री.

रास्ता, मार्ग।
संज्ञा
(सं.)

सृति

स्त्री.

जन्म।
संज्ञा
(सं.)

सृति

स्त्री.

चलना, गमन।
संज्ञा
(सं.)

सृति

स्त्री.

आवागमन।
संज्ञा
(सं.)

सृति

स्त्री.

सरकना।
संज्ञा
(सं.)

सृति

स्त्री.

खिसकना।
संज्ञा
(सं.)

सृष्ट

पैदा, उत्पन्न।
वि.
(सं.)

सृष्ट

रचित, निर्मित।
वि.
(सं.)

सृष्ट

छोड़ा या निकाला हुआ।
वि.
(सं.)

सृष्ट

व्यक्त।
वि.
(सं.)

देवनागरी वर्णमाला का प्रथम अक्षर। कंठ्य वर्ण। मूल व्यंजनों का स्वतंत्र उच्चारण इस अक्षर की सहायता से होता है।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App